वर्ष 2019-20 के खरीफ फसलों के लिए MSP की घोषणा

केंद्रीय मंत्रिमंडल की आर्थिक समिति ने वर्ष 2019-20 के खरीफ फसलों के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (MSP) में वृद्धि को 3 जुलाई को मंजूरी दे दी.

न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 2019-20: एक दृष्टि

फसल MSP
2018-19
MSP
2019-20
बढ़ोतरी लागत से
ज्यादा (%)
धान 1,750 1,815 65 50
तुअर 5,675 5,800 125 60
मूंग 6,975 7,050 75 50
उड़द 5,600 5,700 100 64
तिल 6,249 6,485 236 50
मूंगफली 4,890 5,090 200 50
ज्वार 2,430 2,550 120 50
बाजरा 1,950 2,000 50 85
मक्का 1,700 1,760 60 50
सोयाबीन 3,399 3,710 311 50
कपास 5,150 5,255 105 50
सूरजमुखी 5,388 5,650 262 50

क्या है एमएसपी? एमएसपी यानि न्यूनतम समर्थन मूल्य वह कीमत होती है, जिस पर सरकार किसानों से अनाज खरीदती है. इसे सरकारी भाव भी कहा जा सकता है. सरकार हर साल फसलों की एमएसपी तय करती है ताकि किसानों की उपज का वाजिब भाव मिल सके. इसके तहत सरकार फूड कारपोरेशन ऑफ इंडिया, नैफेड जैसी सरकारी एजेसिंयों की मदद से किसानों की फसलों को खरीदती है.