बारबाडोस ने क्वीन एलिजाबेथ को राष्ट्रप्रमुख के पद से हटाया

बारबाडोस ने पूरी तरह से गणराज्य (Republic State) होने का फैसला किया है. बारबाडोस की संसद ने अपने दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन में सैंड्रा मैसन को अपना राष्ट्राध्यक्ष चुन लिया. वह गणतंत्र बारबाडोस की पहली राष्ट्रपति होंगी. ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ बारबाडोस की प्रमुख नहीं रहेंगी.

बारबाडोस पर अंग्रेजों द्वारा वर्ष 1625 में कब्ज़ा किया गया था. वैसे तो बारबाडोस ब्रिटिश औपनिवेश से 54 साल पहले ही मुक्त हो गया था. लेकिन उसकी शासन प्रणाली ऐसी थी जिसमें राज्य प्रमुख ब्रिटेन की महारानी ही थीं.

72 साल की डेम सैंड्रा मैसन (Dame Sandra Mason) 30 नवंबर 2021 को बारबाडोस के राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी. ब्रिटेन से अपने देश की आजादी की 55वीं सालगिरह पर यह पद संभालेंगी.

बारबाडोस (Barbados): एक दृष्टि

  • बारबाडोस 2.85 लाख की जनसंख्या वाला द्वीप देश है. यह कैरेबियाई द्वीपों में सबसे अधिक जनसंख्या और समृद्ध देशों में से एक है. यह 432 वर्ग किमी के क्षेत्र को कवर करता है. इसका सबसे बड़ा शहर ब्रिजटाउन है, जो इसकी राजधानी भी है. यह देश आर्थिक रूप से पर्यटन पर ज्यादा निर्भर है.
  • यह कैरेबियन द्वीप समूह में पहला ब्रिटिश औपनिवेशन नहीं है जो गणराज्य बन रहा है. इसेस पहले गुयाना ने 1970 में आजाद होने के चार साल बाद गणतंत्र अपनाया था. इसके बाद त्रिनिदाद और टोबैगो ने 1976 और डोमिनिका ने 1978 में गणतंत्र अपनाया था.
लेटेस्ट कर्रेंट अफेयर्स 〉