अहमदाबाद‍ के मोटेरा में विश्‍व के सबसे बड़े क्रिकेट स्‍टेडियम का उदघाटन

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 24 फरवरी को अहमदाबाद‍ के मोटेरा में विश्‍व के सबसे बड़े क्रिकेट स्‍टेडियम का उदघाटन किया. इस स्टेडियम का नाम नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्‍टेडियम रखा गया है. राष्‍ट्रपति ने नव-निर्मित क्रिकेट स्‍टेडियम में सरदार वल्‍लभ भाई पटेल स्‍पोर्टस एन्‍क्‍लेव की आधारशिला भी रखी.

नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्‍टेडियम: एक दृष्टि

  • नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्‍टेडियम विश्‍व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्‍टेडियम बन गया है. मोटेरा क्रिकेट स्‍टेडियम में एक लाख 32 हजार दर्शक बैठ सकेंगे.
  • इस स्‍टेडियम में होने वाले डे-नाइट मैचों के लिए एलईडी लाइटिंग से रोशनी की विशेष व्‍यवस्‍था की गई है. किसी भी अन्‍य स्‍टेडियम में इस्‍तेमाल हो रही लाइटिंग की तुलना में यहां लगभग आधी बिजली खर्च होगी.
  • ग्रीन बिल्डिंग सर्टिफिकेशन की गोल्‍ड रेटिंग से युक्‍त ये स्‍टेडियम ईको फ्रेंडली विकास एक अच्‍छा उदाहरण भी है. ये स्‍टेडियम विश्‍व पटल पर अपनी मजबूत पहचान बनाने वाले आज के भारत की आकांक्षाओं और क्षमताओं को प्रदर्शित करता है.
  • 18 एकड़ का एक नया स्‍पोर्ट्स कॉमप्‍लेक्‍स बनेगा. सरदार पटेल स्‍पोर्ट्स एनक्‍लेव, नरेन्‍द्र मोदी स्‍टेडियम और नारायण पुरा में बनने वाला स्‍पोर्ट्स कॉमप्‍लेक्‍स ये तीनों मिलाकर किसी भी अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍पर्धा में खेलने वाले सभी खेलों को अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर खेलने की पूरी व्‍यवस्‍था एक ही शहर में एक ही जगह पर हो जाएगी.
  • स्‍पोर्ट्स कॉमप्‍लेक्‍स में विश्‍व स्‍तरीय सभी खेलों की व्‍यवस्‍था यहां पर होगी और देश और दुनिया के सभी खेलों के, सभी खिलाडियों को ट्रेनिंग की भी व्‍यवस्‍था पर यहां पर होगी.

ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट 2021: विजेता और उप-विजेता की पूरी सूची

ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) टेनिस टूर्नामेंट 2021 का समापन 22 फरवरी को हो गया. यह प्रतियोगिता 10 जनवरी से ऑस्ट्रेलिया के मेलबोर्न पार्क (Melbourne Park) में खेला गया था. इस प्रतियोगिता के प्रमुख विजेताओं की सूची इस प्रकार है:

महिला एकल: ऑस्ट्रेलियन ओपन के महिला एकल का खिताब जापान की नाओमी ओसाका ने जीता. अमरीका की जेनिफर ब्रेडी इस खिताब की उप-विजेता रहीं. नाओमी ओसाका ने चौथी बार इस प्रतियोगिता के महिला सिंगल्स खिताब जीता है.

पुरुष एकल: पुरुष एकल का ख़िताब मौजूदा चैंपियन सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने जीता. जोकोविच ने फाइनल में रूस के डेनिल मेदवेदेव को पराजित किया.

नोवाक जोकोविच लगातार तीसरी और कुल 9वीं बार ऑस्ट्रेलियाई ओपन जीतने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए हैं. ऑस्ट्रेलियाई ओपन के इतिहास में 30 साल की उम्र के बाद तीन बार फाइनल में पहुंचने वाले जोकोविच पहले खिलाड़ी भी बने थे.

मिक्‍स्ड डबल्‍स: चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेजीकोवा और अमेरिका के राजीव राम ने जीता. दक्षिण अफ्रीका के मैथ्यू एबदेन और ऑस्ट्रेलिया की सामंथा स्टोसुर उप-विजेता रहे.

महिला डबल्स: ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट के महिला डबल्स का खिताब एलएस मेरेटेन्स (बेल्जियन) और एरीना सबालिंका (लातिविया) की जोडी ने जीता. फाइनल में इस जोडी ने बारगोरा क्रैजीसिकोवा और कैटरीना सिनियाकोवा की जोडी को हराया.

पुरुष डबल्स: ईवान डोडिग (क्रोएशिया) और फिलिप पोलासेक (स्लोवेकिया) पुरुष डबल्स के विजेता बने. डोडिग और पोलासेक की जोड़ी ने फाइनल में मौजूदा चैम्पियन राजीव राम और जो सेलिसब्री की जोडी को हराया.

82वीं राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैम्पियनशिप के महिला एकल का खिताब मनिका बत्रा ने जीता

मनिका बत्रा ने 82वीं राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियनशिप-2020 के महिला एकल का खिताब जीत लिया है. 18 फरवरी को खेले गये इस प्रतियोगिता के फाइनल में रीथ रिश्या को पराजित कर दूसरी बार यह खिताब जीता.

राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता मनिका ने 2015 में हैदराबाद राष्ट्रीय प्रतियोगिता में पहली ट्राफी हासिल की थी. पैट्रोलियम खेल संवर्धन बोर्ड (PSPB) का प्रतिनिधित्व कर रही मनिका 2017 के फाइनल में सुर्तिथा मुखर्जी से हारकर उप विजेता रही थीं.

82वीं राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैम्पियनशिप 2020

82वीं राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैम्पियनशिप 2020 का आयोजन 15 से 23 फरवरी तक हरियाणा के पंचकूला स्थित ताऊ देवीलाल खेल स्टेडियम में किया जा रहा है. इसमें 15 से 18 फरवरी तक महिला एकल प्रतियोगिता आयोजित की गयी थी. पुरुष एकल प्रतियोगिता का आयोजन 20 से 23 फरवरी तक किया जा रहा है.

ऋषभ पंत ‘ICC प्लेयर ऑफ द मंथ’ अवार्ड पाने वाले विश्व के पहले क्रिकेटर बने

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत को महीने का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी (ICC Player of the Month) घोषित किया है. ICC ने पहली बार ‘प्लेयर ऑफ द मंथ’ अवार्ड शुरू किया है. ऋषभ पंत के साथ इस अवार्ड के लिए जो रूट और पॉल स्टर्लिंग को नामित किया गया था. पंत यह सम्मान पाने वाले विश्व के पहले क्रिकेटर हैं.

भारतीय विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया में दो बार शानदार पारियां खेलीं थी. उन्होंने पहले सिडनी टेस्ट में शानदार 97 रन बनाकर भारत को हार से बचाने में अहम किरदार निभाया. इसके बाद ब्रिसबेन में नाबाद 89 रन बनाकर भारत को यादगार सीरीज जीत दिलवाई थी.

सरकार ने BCCI को क्रिकेट मैचों में ड्रोन के इस्तेमाल को मंजूरी दी

सरकार ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को क्रिकेट मैचों में ड्रोन के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है. नागरिक उड्डयन मंत्रालय और नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने BCCI को क्रिकेट मैचों की लाइव एरियल सिनेमेटोग्राफी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल करने की सशर्त मंजूरी दी है.

इस मंजूरी के बाद देश में होने वाले क्रिकेट मैचों की लाइव एरियल सिनेमैटोग्राफी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जा सकेगा. BCCI को क्रिकेटों मैचों में ड्रोन का इस्तेमाल शुरू करने से पहले स्थानीय प्रशासन, रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया जैसे संस्थानों से मंजूरी लेनी होगी.

गौरतलब है कि BCCI और मैसर्स क्यूडिच ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय से क्रिकेट मैच के दौरान उसे रेमोटली पाइलेटिड एयरक्राफ्ट सिस्टम (RPSS) का उपयोग करने की मंजूरी दिए जाने का आग्रह किया था.

भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया से बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 2-1 से जीती

भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया से चार टेस्ट मैच की बार्डर-गावसकर (Border–Gavaskar Trophy) सीरीज 2-1 से जीत ली है. ब्रिसबेन के गाबा स्टेडियम में खेले गये इस सीरीज के चौथे और अंतिम मैच में भारत ने तीन ऑस्‍ट्रेलिया को 3 विकेट से पराजित कर यह सीरीज जीती. यह मैच अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में खेला गया था. गाबा के मैदान पर 32 सालों में ऑस्‍ट्रेलिया की ये पहली हार थी.

बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 2020-21, 17 दिसम्बर से 19 जनवरी तक ऑस्ट्रेलिया में खेला गया था. इस ट्रॉफी का एडिलेड में खेला गया पहला मैच ऑस्‍ट्रेलिया ने जीता था. मेलबर्न में खेले गये दूसरे टेस्ट को जीतकर भारत ने बराबरी की थी. इसके बाद सिडनी में खेला गया इस सीरीज का तीसरा टेस्ट ड्रा रहा था.

इस ऐतिहासिक जीत के साथ ही भारत ने विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में ऑस्ट्रेलिया को पीछे छोड़ते हुए नंबर एक की पोजिशन हथिया ली है. ऑस्ट्रेलिया तीसरे स्थान पर जबकि न्यूजीलैंड से दूसरे स्थान पर पहुंच गया है.

ICC डिकेड अवॉर्ड्स: महेंद्र सिंह धोनी को दशक की सर्वश्रेष्ठ वनडे टीम के कप्तान चुने गये

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने डिकेड अवॉर्ड्स की घोषणा हाल ही में की है. ये अवॉर्ड्स पिछले 10 वर्षों (2011 से 2020 तक) में क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के आधार पर दिए गये हैं.

ICC की इस दशक की सर्वश्रेष्ठ वनडे, टेस्ट और T-20 तीनों ही टीमों में विराट कोहली को जगह मिली है. साथ ही टेस्ट टीम की कप्तानी उन्हें सौंपी गई है. इसके अलावा भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को दशक की सर्वश्रेष्ठ वनडे और T-20 टीमों का कप्तान चुना गया है.

दशक की सर्वश्रेष्ठ वनडे टीम: ICC ने महेंद्र सिंह धोनी को इस दशक की अपनी वनडे टीम का कप्तान चुना किया है. इस टीम में धोनी के अलावा दो और भारतीय रोहित शर्मा, विराट कोहली हैं.

ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर और मिशेल स्टार्क भी इस टीम में चुने गए हैं. बांग्लादेश के शाकिब अल हसन और इंग्लैंड के बेन स्टोक्स दो ऑलराउंडर इस टीम में हैं. दक्षिण अफ्रीका के इमरान ताहिर टीम के दूसरे स्पिनर हैं. दक्षिण अफ्रीका से एबी डिविलियर्स को भी टीम में जगह मिली है. न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट टीम में शामिल किए गए हैं.

दशक की सर्वश्रेष्ठ T-20 टीम: ICC ने महेंद्र सिंह धोनी को इस दशक की अपनी T-20 टीम का कप्तान चुना है. इस टीम में भारतीय टीम से विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह भी शामिल किये गये हैं.
दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स और वेस्टइंडीज से कीरोन पोलार्ड के अलावा क्रिस गेल को इस टीम में जगह मिली है. अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान टीम में इकलौते स्पिनर हैं.

दशक की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट टीम: ICC ने विराट कोहली को दशक की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट टीम का कप्तान चुना है. विराट कोहली के अलावा रविचंद्रन अश्विन को बतौर स्पिन गेंदबाज जगह मिली है. इस टीम में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक, ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर, न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन, श्रीलंका के दिग्गज कुमार संगाकारा, दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन, इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ड ब्रॉड को जगह मिली है.

दशक की सर्वश्रेष्ठ महिला वनडे टीम: ICC ने भारत की मिताली राज और झूलन गोस्वामी को अपनी इस दशक की महिला वनडे टीम में चुना है.

इस वनडे टीम की कप्तान ऑस्ट्रेलिया के मेग लेनिंग हैं. लेनिंग के अलावा ऑस्ट्रेलिया से एलिसा हिली और एलिसा पैरी को भी इस टीम में चुना गया है. वेस्टइंडीज की स्टेफनी टेलर और अनीसा मोहम्मद को भी टीम में जगह मिली है. इंग्लैंड से साराह टेलर इकलौती खिलाड़ी हैं. न्यूजीलैंड से सूजी बेट्स भी अकेली हैं. दक्षिण अफ्रीका से डॉन वॉन निएकेर्क और मारिजाने कैप हैं.

ICC दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर अवॉर्ड्स, विराट कोहली को ‘सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी’

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर अवॉर्ड्स की घोषणा 28 दिसम्बर को की. ये अवॉर्ड्स पिछले 10 वर्षों (2011 से 2020 तक) में क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के आधार पर दिए गये हैं.

विराट कोहली दशक का सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर चुने गये

ICC ने भारतीय कप्तान विराट कोहली को शीर्ष सम्मान ‘दशक का सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर’ (ICC Male Cricketer of the Decade) से सम्मानित किया है. उन्होंने पिछले 10 साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर के लिए सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी जीती. कोहली को दशक का सर्वश्रेष्ठ वनडे इंटरनेशनल क्रिकेटर (ICC Men’s ODI Cricketer of the Decade) भी चुना गया.

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को दशक का खेल भावना पुरस्कार

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ICC का दशक का खेल भावना पुरस्कार (ICC Spirit of Cricket Award of the Decade) जीता. प्रशंसकों ने 2011 में नॉटिंघम टेस्ट में इयान बेल के अजीब हालात में रन आउट होने के बाद उन्हें वापस बुलाने के लिए धोनी को इस पुरस्कार के लिए चुना.

ICC दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर अवॉर्ड्स: एक दृष्टि

सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर
दशक के सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर (सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी): विराट कोहली (भारत)
दशक के सर्वश्रेष्ठ पुरुष वनडे क्रिकेटर: विराट कोहली (भारत)
दशक के सर्वश्रेष्ठ पुरुष T20I क्रिकेटर: राशिद खान (अफगानिस्तान)
दशक के सर्वश्रेष्ठ पुरुष टेस्ट क्रिकेटर: स्टीव स्मिथ (ऑस्ट्रेलिया)

सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर
महिला क्रिकेटर के लिए रैशेल हीहो फ्लिंट (Rachael Heyhoe Flint) अवार्ड: एलिस पेरी (ऑस्ट्रेलिया)
दशक के सर्वश्रेष्ठ महिला वनडे क्रिकेटर: एलिस पेरी (ऑस्ट्रेलिया)
दशक के सर्वश्रेष्ठ महिला T20I क्रिकेटर: एलिस पेरी (ऑस्ट्रेलिया)
दशक का खेल भावना पुरस्कार (वीमेन एसोसिएट क्रिकेटर ऑफ़ द डिकेड): कैथरीन ब्रायस (स्कॉटलैंड)

मुक्केबाजी विश्व कप 2020: भारत ने तीन स्वर्ण सहित जीते नौ पदक जीते

मुक्केबाजी विश्व कप (Boxing World Cup) 2020 का 19 दिसम्बर को समापन हो गया. यह प्रतियोगिता जर्मनी के कोलन में आयोजित किया गया था. इस प्रतियोगिता में भारतीय मुक्केबाजों ने नौ पदक जीते. जिनमें तीन स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य शामिल हैं. मुक्केबाजी विश्व कप में भारत की ओर से पांच महिला और आठ पुरुष मुक्केबाजों ने हिस्सा लिया था.

तीन स्वर्ण पदक हासिल करने वाले मुक्केबाज अमित पंघाल, मनीषा मौन और सिमरनजीत कौर हैं. भारत की AIBA महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में कांस्य पदक विजेता सिमरनजीत कौर ने जर्मनी की स्थानीय मुक्केबाज माया क्लेनहंस को 60 किग्रा वर्ग में पराजित कर स्वर्ण पदक जीता.

महिला मुक्केबाजी के 57 किग्रा वर्ग के फाइनल में दो भारतीय मुक्केबाज मनीषा मौन और दो बार के AIBA महिला युवा विश्व चैंपियन साक्षी चौधरी का मुकाबला था. इस मुकाबले को मनीषा ने 3 -2 से जीतकर स्वर्ण जीता, जबकि साक्षी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

2018 एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता और 2019 के ASBC एशियाई चैंपियन पंघाल ने पुरुषों के फ्लाइवेट (52 किग्रा) में राउंड-रॉबिन प्रतियोगिता जीती. उन्हें जर्मनी के अरगिष्टी टर्टरयान ने वाकओवर दे दिया और पंघाल ने फाइनल में बिना लड़े स्वर्ण पदक हासिल कर लिया.

सतीश कुमार चोट के कारण फाइनल में नहीं खेल सके जिससे उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा. सोनिया लाठेर (57 किग्रा), पूजा रानी (75 किग्रा) गौरव सोलंकी (57 किग्रा) और मोहम्मद हुसामुद्दीन (57 किग्रा) ने अपने-अपने वर्ग में कांस्य पदक जीता.

भारत में योगासन को प्रतिस्पर्धी खेल के रूप में मान्यता दी गयी

केन्द्रीय खेल मंत्रालय ने योगासन को प्रतिस्पर्धी खेल के रूप में औपचारिक तौर पर मान्यता दी है. इसकी मान्यता 17 दिसम्बर को खेल मंत्री किरेन रिजिजू और आयुष (आयुर्वेद, योग, नैचुरोपैथी, यूनानी, सिद्ध, होम्योपैथी) मंत्री श्रीपाद येस्सो नाईक ने दी. योगासन को प्रतिस्पर्धी खेल के रूप में मान्यता दिए जाने से इसे सरकारी सहायता मिल सकेगी.

पिछले साल योग गुरू बाबा रामदेव की अध्यक्षता में अंतरराष्ट्रीय योगासन खेल महासंघ का भी गठन किया गया था. डॉक्टर एचआर नागेंद्र इसके महासचिव हैं. खेल मंत्रालय इस राष्ट्रीय महासंघ को वित्तीय सहायता देगा ताकि आने वाले साल के लिए यह योजना बना सके. खेलमंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि योगासन को ‘खेलो इंडिया’ कार्यक्रम का भी हिस्सा बनाया जाएगा.

योगासन प्रतिस्पर्धाओं के लिए चार खेलों और सात वर्गों में 51 पदक प्रस्तावित हैं. इनमें योगासन, कलात्मक योग (एकल व युगल), लयबद्ध योग (एकल, समूह), व्यक्तिगत हरफनमौला चैम्पियनशिप और टीम चैम्पियनशिप शामिल है. अगले साल फरवरी में राष्ट्रीय व्यक्तिगत योगासन खेल चैम्पियनशिप का भी प्रस्ताव है.

भारत ने डोपिंग रोधी एजेंसी WADA को 10 लाख डॉलर देने की घोषणा की

भारत ने विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (WADA) के वैज्ञानिक अनुसंधान बजट में 10 लाख डॉलर देने की घोषणा की है. इस प्रस्तावित धनराशि से WADA को आधुनिक स्तर की डोपिंग रोधी परीक्षण और पहचान प्रणाली विकसित करने में मदद मिलेगी. इस पैसे का इस्तेमाल WADA के स्वतंत्र जांच और खूफिया विभाग को मजबूत करने के लिए भी किया जाएगा.

भारत का यह योगदान दुनिया के अन्य देशों की सरकारों के बीच सर्वाधिक है जिसमें चीन, सऊदी अरब और मिस्र भी शामिल हैं. सभी सदस्य देश जितना योगदान देंगे अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) भी उनके बराबर योगदान देगा जिससे कि एक करोड़ डॉलर का कोष तैयार किया जा सके.

विश्व एंटी डोपिंग एजेंसी (WADA) क्या है?

WADA का पूरा नाम World Anti-Doping Agency है. अंतरराष्ट्रीय खेलों में ड्रग्स के बढ़ते चलन को रोकने के लिए बनाई गयी एक विश्वस्तरीय स्वतंत्र संस्था है. अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) ने WADA की स्थापना 1999 में स्विट्जरलैंड के लुसेन में की थी. WADA का मुख्यालय कनाडा के मॉन्ट्रियल में है.

WADA हर साल प्रतिबंधित दवाओं की सूची जारी करता है. खेलों के दौरान इन दवाओं के प्रयोग पर रोक होती है. जांच में दोषी पाये जाने पर खिलाड़ी पर प्रतिबंध लगा सकता है.

विश्व में WADA से मान्यता प्राप्त 35 प्रयोगशालाएं हैं. दिल्ली में स्थित राष्ट्रीय डोप परीक्षण प्रयोगशाला (NDTL) भी WADA से मान्यता प्राप्त एक प्रयोगशाला है. यह विश्व की 34वां प्रयोगशाला है.

ब्रेक डांस को आधिकारिक तौर पर ओलंपिक खेल में शामिल किया गया

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) ने ब्रेक डांस को आधिकारिक तौर पर ओलंपिक खेल में शामिल किया है. पेरिस में 2024 में होने वाले खेलों में इसे पहली बार शामिल किया गया है. ओलंपिक में ब्रेक डासिंग को ‘ब्रेकिंग’ के नाम से जाना जाएगा.

IOC ने पेरिस ओलंपिक खेलों में पदक स्पर्धाओं की संख्या टोक्यो ओलंपिक खेलों की तुलना में 10 कम कर दी है. अब वहां 329 पदक स्पर्धाएं होंगी. भारोत्तोलन की चार श्रेणियां कम कर दी गई. इसके अलावा स्केटबोर्डिग, स्पोर्ट क्लाइंबिंग और सर्फिंग को भी इन खेलों में शामिल किया गया.

फोर्ब्स ने दुनिया की सौ शक्तिशाली महिलाओं की सूची में 4 भारतीय महिलाओं को शामिल किया

फोर्ब्स पत्रिका ने वर्ष 2020 में दुनिया की सौ शक्तिशाली महिलाओं की सूची हाल ही में जारी की है. इस सूची में वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन सहित 4 भारतीय महिलाओं को शामिल किया गया है.

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल शीर्ष स्थान पर

फोर्ब्स की इस सूची में जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल लगातार दसवीं बार शीर्ष स्थान पर हैं. वहीं यूरोपियन सेंट्रल बैंक की प्रमुख क्रिस्टीन लेगार्ड लगातार दूसरी बार दूसरे स्थान पर रहीं. अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस सूची में तीसरे पायदान पर हैं.

4 भारतीय महिलाओं को शामिल किया गया

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को सूची में 41वां स्थान मिला है. एचसीएल इंटरप्राइज की सीईओ रोशनी नादर मल्होत्रा 55वें और बायोकॉन की संस्थापक किरण मजूमदार शॉ 68वें पायदान पर रहीं. लैंडमार्क समूह की अध्यक्ष रेणुका जगतियानी को 98वां स्थान हासिल हुआ.