पोस्ट



सुनील जोशी BCCI के नए मुख्य चयनकर्ता चुने गए

BCCI के क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) ने पूर्व क्रिकेटर सुनील जोशी को राष्ट्रीय चयन समिति का मुख्य चयनकर्ता के रूप में चुना है. वे एमएसके प्रसाद की जगह लेंगे. जोशी ने भारतीय टीम के लिया 15 टेस्ट और 69 वनडे खेले हैं. CAC ने पंजाब और रेलवे की तरफ से खेलने वाले हरविंदर सिंह को भी समिति के सदस्यों में शामिल किया है.

CAC ने राष्ट्रीय चयन समिति के दो पदों को भरने के लिए साक्षात्कार का आयोजन किया था. इस साक्षात्कार के आधार पर दोनों चयनकर्ताओं का चयन किया गया. CAC में मदन लाल, आरपी सिंह और सुलक्षणा नाईक शामिल थे.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को केंद्रीय अनुबंध से बाहर किया

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को केंद्रीय अनुबंध से बाहर कर दिया है. क्रिकेट बोर्ड द्वारा 16 जनवरी को घोषित कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट से धोनी को बाहर रखा गया है. बोर्ड ने अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 के लिए कंट्रैक्ट लिस्ट जारी किया है. धोनी को इस सूची के किसी भी कैटिगरी में जगह नहीं दी गई है.

वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के सेमीफाइनल में हार के बाद से धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर हैं. वह टेस्ट मैच से पहले ही संन्यास ले चुके हैं.

BCCI ने चार ग्रेड्स ग्रेड में खिलाड़ियों को कॉन्ट्रैक्ट्स दिए

BCCI ने चार ग्रेड्स ग्रेड A+, ग्रेड A, ग्रेड B और ग्रेड C में खिलाड़ियों को कॉन्ट्रैक्ट्स दिए हैं.

  1. A+ कॉन्ट्रैक्ट्स पाने वालों को सात करोड़ रुपए मिलेंगे.. इसमे भारतीय कप्तान विराट कोहली, उपकप्तान रोहित शर्मा और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह शामिल है.
  2. ग्रेड A में शामिल क्रिकेटर को 5 करोड़ रुपए मिलेंगे. इसमे 11 खिलाड़ियों को रखा गया है. इनमें रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, चेतेश्वर पुजारा, आजिंक्य रहाणे, केएल राहुल, शिखर धवन, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, कुलदीप यादव और रिषभ पंत है.
  3. ग्रेड B में पाँच खिलाड़ियों को जगह मिली है. इनमें रिद्धिमान साहा, उमेश यादव, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पांड्या और मयंक अग्रवाल हैं. इन्हे तीन करोड़ रुपए मिलते हैं.
  4. ग्रेड C में आठ खिलाड़ियों को जगह मिली है. इनमें केदार जाधव, नवदीप सैनी, दीपक चाहर, मनीष पांडे, हनुमा विहारी, शार्दुल ठाकुर, श्रेयस अय्यर और वाशिंगटन सुंदर शामिल हैं.

धोनी का प्रदर्शन: एक दृष्टि

धोनी एकमात्र कप्तान हैं जिन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को ICC की तीनों ट्रॉफियां जिताई हैं. जिनमें 2007 का टी-20 वर्ल्ड कप, 2011 का क्रिकेट वर्ल्ड कप और ICC चैंपियंस ट्रॉफी शामिल हैं. धोनी ने अपने अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 90 टेस्ट में 4876 रन बनाए हैं. वनडे में धोनी ने 350 मैच खेले और 50 से अधिक के औसत से 10,773 रन बनाए.

वनडे में उनके नाम 10 शतक और 73 अर्धशतक शामिल हैं. टी-20 में धोनी ने 98 मैच खेले और 37 से अधिक की औसत से 1617 रन बनाए हैं. इसमें दो अर्धशतक शामिल हैं. धोनी ने 23 दिसंबर 2004 को बांग्लादेश के खिलाफ इंटरनैशनल डेब्यू किया था. उन्होंने अपना आखिरी वनडे न्यू जीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल के तौर पर खेला जिसमें 50 रन बनाए.

सौरव गांगुली ने भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड के 39वें अध्‍यक्ष का कार्यभार संभाला

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली ने 23 अक्टूबर को भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (BCCI) के 39वें अध्‍यक्ष का कार्यभार संभाल लिया. अध्‍यक्ष पद के लिए गांगुली का चयन सर्वसम्‍मति से हुआ है. गांगुली को BCCI की महासभा में अगले नौ महीने के लिए आधिकारिक तौर पर बोर्ड की अध्यक्षता की कमान सौंपी गई है.

गांगुली की नियुक्ति के साथ ही BCCI के संचालन के लिए उच्‍चतम न्‍यायालय द्वारा नियुक्‍त प्रशासक समिति की 33 महीने पुरानी व्‍यवस्‍था समाप्‍त हो गई. अब बोर्ड से जुड़े सभी कामकाज BCCI के चुने हुए नए प्रतिनिधि ही संभालेंगे.

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान कपिल ने BCCI की सलाहकार समिति से इस्तीफा दिया

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान कपिल देव ने 2 अक्टूबर को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) के प्रमुख पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने हितों के टकराव का नोटिस मिलने का बाद इस्तीफा दिया है.

कपिल को BCCI के एथिक्‍स अफसर डीके जैन ने सितंबर में हितों के टकराव का नोटिस भेजा था. MPCA (Madhya Pradesh Cricket Association) के सदस्‍य संजीव गुप्‍ता ने CAC के सदस्‍यों के खिलाफ शिकायत में दावा किया था कि वे एक साथ कई भूमिकाएं निभा रहे हैं. गुप्‍ता ने कहा कि कपिल पर हितों के टकराव का मामला बनता है क्‍योंकि वह कॉमेंटेटर, फ्लडलाइट कंपनी के मालिक और सीएससी के अलावा भारतीय क्रिकेटर्स असोसिएशन के सदस्‍य भी हैं.

कपिल देव के CAC प्रमुख रहते ही रवि शास्त्री को दोबारा भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम का चीफ कोच चुना गया था. CAC पर पुरुष और महिला टीम के हेड कोच चुनने की जिम्मेदारी थी. कपिल की अध्यक्षता वाली इस समिति ने सभी उम्मीदवारों के इंटरव्यू लिए थे जिसके बाद शास्त्री को एक बार फिर कोच चुना गया.

BCCI ने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन की मान्यता पुनः बहाल की

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन (RCA) की मान्यता पुनः बहाल कर दी है. ललित मोदी के साथ राजस्थान क्रिकेट के रिश्ते की वजह से BCCI ने 2014 से ही RCA की मान्यता खत्म कर रखी थी.

RCA को मान्यता मिल जाने के बाद एक बार फिर से जयपुर में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मैच हो सकेंगे. IPL के अलावा राजस्थान में वनडे और टेस्ट मैच नहीं हो रहे थे. इसके अलावा राजस्थान के खिलाड़ी भी BCCI के सभी टूर्नामेंटों में हिस्सा ले पाएंगे.

BCCI के संविधान के अनुसार, 12 सितंबर तक RCA के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. 28 सितंबर तक राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव करने के बाद राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष अक्टूबर में होने वाले BCCI के चुनाव में भी भाग लेगा.


BCCI ने NADA की डोपिंग निरोधक नीति का पालन करने का निर्णय लिया

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (National Anti Doping Agency- NADA) की डोपिंग निरोधक नीति का पालन करने का निर्णय लिया है. इसके तहत NADA कभी भी और कहीं भी क्रिकेटरों के डोप परीक्षण कर सकती है.


BCCI ने क्रिकेट खिलाड़ी पृथ्‍वी शॉ को डोपिंग मामले में निलंबित किया

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने क्रिकेट खिलाड़ी पृथ्‍वी शॉ को डोपिंग मामले में 8 महीने के लिए निलंबित कर दिया है. शॉ पर एंटी डोपिंग रूल वायलेशन (ADRV) के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है. परीक्षण के बाद उनके नमूने में टरबुटैलाइन पाया गया था. टरबुटैलाइन विश्व डोपिंग विरोधी संस्था (वाडा) की प्रतिबंधित पदार्थों की सूची में शामिल है. यह पदार्थ आमतौर पर खांसी की दवाई में पाया जाता है. शॉ का निलंबन 16 मार्च 2019 से 15 नवंबर 2019 तक लागू रहेगा.