पोस्ट



पूर्व बल्लेबाज जे अरुण कुमार अमेरिकी क्रिकेट टीम के कोच नियुक्त किए गए

कर्नाटक के पूर्व बल्लेबाज जे अरुण कुमार को अमेरिकी पुरुष क्रिकेट टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है. अमेरिकी क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इयान हिगिंस ने जे अरुण कुमार को मुख्य कोच चुने जाने की पुष्टि 29 अप्रैल को की.

अरुण कुमार ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 7,200 से अधिक जबकि लिस्ट A मैचों में 3,000 से अधिक रन बनाए हैं. उन्होंने 2013-14 और 2014-15 के सत्र में रणजी ट्रोफी, विजय हजारे ट्रोफी और ईरानी कप में कर्नाटक का नेतृत्व किया था.

कोच के तौर पर वह कर्नाटक की टीम के साथ कई वर्षों तक जुड़े रहे हैं. वह इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाजी कोच भी रह चुके हैं.

सौराष्ट्र ने बंगाल को पराजित कर पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब विजेता बना

रणजी ट्रॉफी 2019-20 का खिताब सौराष्ट्र ने जीत लिया है. सौराष्ट्र पहली बार इस खिताब का विजेता बना है. इस टूर्नामेंट का फाइनल मैच 13 मार्च को सौराष्ट्र और बंगाल की टीम के बीच खेला गया था. यह मैच ड्रॉ रहा, लेकिन विजेता का फैसला पहली पारी में बनाये गये रन के आधार पर किया गया.

सौराष्ट्र ने पहली पारी में 425 रन बनाए थे जबकि बंगाल की टीम पहली पारी में 381 रन पर ही सिमट गई थी. दूसरी पारी में मैच के पांचवें दिन सौराष्ट्र ने 4 विकेट खोकर 105 रन बना लिए थे और पहली पारी में बढ़त के आधार पर उसे जीत मिली.

रणजी ट्रॉफी: एक दृष्टि

  • रणजी ट्रॉफी भारत की प्रथम श्रेणी घरेलू क्रिकेट प्रतियोगिता है. यह प्रतियोगिता भारत के क्षेत्रीय (राज्य) क्रिकेट टीमों के बीच खेला जाता है.
  • इस प्रतियोगिता का नाम भारतीय क्रिकेटर रंजित सिंह के नाम पर रखा गया है जिन्हें रणजी के नाम से भी जाना जाता था.
  • भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की निगरानी में यह प्रतियोगिता पहली बार 1934 में शुरू किया गया था.
  • प्रतियोगिता का पहला मैच चेपक स्टेडियम पर मद्रास और मैसूर के बीच आयोजित किया गया था. पहला रणजी ट्रॉफी मुंबई (बॉम्बे) ने जीता था.
  • मुंबई सर्वाधिक 41 बार इस खिताब का विजेता बना है. मुंबई ने 1958-59 से 1972-73 तक लगातार 15 बार खिताब जीता है.

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर ने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर ने 8 मार्च को क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की. 42 वर्षीय वसीम ने अपना आखिरी इंटरनैशनल मैच अप्रैल, 2008 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ कानपुर में खेला था. जाफर 1996-97 से 2012-13 के बीच 8 बार रणजी ट्रोफी जीतने वाली मुंबई टीम का हिस्सा रहे और लगातार दो बार से (2018 और 2019) उन्होंने विदर्भ को खिताब जितवाने में अहम भूमिका निभाई.

वसीम जाफर: एक दृष्टि

  • जाफर ने करियर का पहला टेस्ट मैच फरवरी 2000 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था.
  • प्रथम श्रेणी क्रिकेट में वह 260 मैच खेलकर करीब 19410 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 57 शतक और 91 अर्धशतक बनाये.
  • वह 150 रणजी मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी हैं और उनके नाम यहां 12 हजार से अधिक रन हैं. यह भारतीय रेकॉर्ड है.
  • विदर्भ के लिए रणजी ट्रोफी खेलने वाले जाफर ने 2000 से 2008 के बीच भारत के लिए 31 टेस्ट खेलकर 1944 रन बनाए जिसमें पांच शतक और 11 अर्धशतक शामिल है.
  • वसीम जाफर को इंडियन प्रीमियर लीग के आगामी सत्र के लिए ‘किंग्स इलेवन पंजाब’ का बल्लेबाजी कोच बनाया गया है.
  • वसीम जाफर डोमेस्टिक क्रिकेट के सचिन तेंडुलकर कहे और रन मशीन उपनाम से भी जाने जाते हैं.

न्‍यूजीलैंड ने भारत से क्रिकेट टैस्‍ट मैच सीरीज 2-0 से जीती

न्‍यूजीलैंड ने भारत से दो मैचों की क्रिकेट टैस्‍ट मैच सीरीज 2-0 से जीत ली है. क्राइस्टचर्च में खले गये इस सीरीज के दुसरे और अंतिम मैच में 2 मार्च को न्‍यूजीलैंड ने भारत को 7 विकेट से हरा दिया. 132 रन के लक्ष्‍य को न्‍यूजीलैंड ने तीन विकेट पर हासिल कर लिया.

पहली पारी में भारत के 242 रन के जवाब में न्‍यूजीलैंड ने 235 रन बनाए थे. काइल जेमिसन को इस मैच में ‘मैन ऑफ द मैच’ और पूरे सीरीज के लिए टिम साउदी को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ घोषित किया गया.

इस सीरीज का पहला मैच वेलिंगटन में खेला गया था. इस मैच में न्‍यूजीलैंड ने भारत को 10 विकेट से हराया था.

न्यूजीलैंड के रॉस टेलर तीनों फॉर्मेट में 100-100 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी बने

न्यूजीलैंड के रॉस टेलर क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे और T-20) में 100 या ज्यादा मैच खेलने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए हैं. उन्होंने यह उपलब्धि 21 फरवरी को न्यूजीलैंड के वेलिंग्टन में भारत के खिलाफ खेले गये अपने 100वें टेस्ट खेलते हुए हासिल की. टेलर ने अपना 100वां T-20 भी भारत के ही खिलाफ 2 फरवरी को माउंट माउनगुई में खेला था.

रॉस टेलर के करीब सिर्फ भारत के रोहित शर्मा और पाकिस्तान के शोएब मलिक हैं. इन दोनों ने वनडे और T-20 में 100 से ज्यादा मैच खेले हैं. हालांकि शोएब ने 35 और रोहित ने सिर्फ 32 ही टेस्ट खेले हैं. इस लिहाज से दोनों इस रिकार्ड से अभी काफी दूर हैं.

टेलर ने इससे पहले 99 टेस्ट में 46.28 के औसत से 7174 रन बनाए, जिसमें 19 शतक और 33 अर्धशतक शामिल हैं. उन्होंने 231 वनडे में 8570 रन बनाए, जिसमें 21 शतक और 51 अर्धशतक शामिल हैं. टेलर ने 100 T-20 में 7 अर्धशतक की मदद से 1909 रन बनाए हैं.

भारत और न्यूज़ीलैंड एक-दिवसीय क्रिकेट सीरीज न्यूज़ीलैंड ने 3-0 से जीती

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच खेले गये तीन एक-दिवसीय मैचों की क्रिकेट सीरीज न्यूज़ीलैंड ने 3-0 से जीत ली है. इस सीरीज का तीसरा और अंतिम माउंट मॉंगॉनी में 11 फरवरी को खेला गया था. इस मैच में न्यूज़ीलैंड ने भारत को पांच विकेट से पराजित कर दिया. इस मैच में भारत ने 50 ओवर में सात विकेट पर 296 रन बनाए थे. जवाब में न्यूजीलैंड ने 47.1 ओवर में पांच विकेट पर 300 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया.

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच यह सीरीज 6 फरवरी से 11 फरवरी तक न्यूज़ीलैंड में खेला गये था. इस सीरीज का दूसरा एकदिवसीय मैच हैमिल्टन में खेला गया था. इस मैच में न्यूजीलैंड ने 22 रन से जीत दर्ज की थी. हैमिल्टन में खेले गये इस सीरीज के पहले मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को 4 विकेट से पराजित किया था.

भारत अंडर-19 विश्‍व कप क्रिकेट का उप-विजेता बना, फाइनल में बांग्लादेश ने हराया

भारत अंडर-19 विश्‍व कप क्रिकेट 2020 का उप-विजेता बना है. इस प्रतियोगिता का फाइनल मैच 9 फरवरी 2020 को भारत और बंगलादेश के बीच दक्षिण अफ्रीका के पोचेस्ट्रूम में खेला गया था. इस मैच में बंगलादेश ने भारत को पराजित कर इस प्रतियोगिता का पहली बार विजेता बना. भारत और बंगलादेश दोनों अपने सभी पांच मैच जीतकर फाइनल में पहुंचा थी.

इस मैच में भारत के 178 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने जब 41 ओवर में सात विकेट पर 163 रन बना लिए थे तब बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा था. मैच दोबारा शुरू होने पर बांग्लादेश को 46 ओवर में 170 रन का लक्ष्य मिला जो उसने 42.1 ओवर में सात विकेट पर 170 रन बनाकर हासिल कर लिया.

ICC अंडर-19 विश्व कप 2020 का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में किया गया

ICC अंडर-19 विश्व कप 2020 का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में 17 जनवरी से 9 फरवरी, 2020 तक किया गया था. यह ICC अंडर 19 विश्व कप का 13वां संस्करण था. इस टूर्नामेंट में कुल 16 टीमों ने हिस्सा लिया, जिसे कुल चार अलग-अलग ग्रुप में बांटा गया था. यह प्रतियोगिता 50 ओवर फॉर्मेट में खेला गया था.

चार अलग-अलग ग्रुप

  1. ग्रुप A: भारत, जापान, न्यूजीलैंड और श्रीलंका
  2. ग्रुप B: ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, नाइजीरिया और वेस्टइंडीज
  3. ग्रुप C: बांग्लादेश, पाकिस्तान, स्कॉटलैंड और जिम्बाब्वे
  4. ग्रुप D: अफगानिस्तान, कनाडा, साउथ अफ्रीका और UAE

टूर्नामेंट का फॉर्मेट

चार अलग-अलग ग्रुप में प्रत्येक से शीर्ष दो टीमें सुपर-लीग क्वार्टर फाइनल में जगह बनाएंगी. क्वार्टर फाइनल जीतने वाली चार टीमें सेमीफाइनल खेलेगी. इसके दो विजेता टीमों के बीच फाइनल खेला जायेगा.

ICC अंडर-19 विश्व कप 2018

भारतीय क्रिकेट टीम ने 2018 में हुए इस टूर्नामेंट के 12वें संस्करण को जीता था. राहुल द्रविड़ की कोचिंग में पृथ्वी शॉ की कप्तानी वाली टीम ने ऑस्ट्रेलिया को फाइनल में हराकर भारतीय टीम पांचवी बार इस विश्व कप का विजेता बना था. इस प्रतियोगिता के पहले संस्करण का आयोजन 1988 में ऑस्ट्रेलिया में किया गया था.

ICC अंडर-19 विश्व कप 2020 में भारत

इस प्रतियोगिता में भारतीय क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व प्रियम गर्ग द्वारा किया गया था. भारत की इस टीम में यशस्वी जायसवाल और रवि बिश्नोई जैसे उभरते हुए खिलाड़ी शामिल थे.

भारतीय टीम

प्रियम गर्ग (कप्तान), आकाश सिंह, अथर्व अंकोलेकर, शुभांग हेगड़े, यशस्वी जायसवाल, ध्रुव जुरेल, कार्तिक त्यागी, कुमार कुशाग्र, सुशांत मिश्रा, विद्याधर पाटिल, रवि बिश्नोई, शशवत रावत, दिव्यांशु सक्सेना दिव्यांश जोशी

भारत के ग्रुप मैच

भारत ने अपने ग्रुप के तीनों मैच जीते. भारतीय टीम ने ग्रुप मैच में श्रीलंका, जापान और न्यूजीलैंड को हराया था. अपने ग्रुप में भारत 6 अंक लेकर शीर्ष पर रहा था.

  1. 20 जनवरी (श्रीलंका): भारत ने श्रीलंका को 90 रन से हराया — पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने निर्धारित 50 ओवर्स में चार विकेट के नुकसान पर 297 रन बनाए. जवाब में श्रीलंकाई टीम 207 रन ही बना पाई.
  2. 21 जनवरी (जापान): भारत ने जापान को 10 विकेट से हराया — जापान की टीम 22.5 ओवर में 41 रनों पर ऑलआउट हो गई. भारत ने 4.5 ओवर में 42 रन बनाकर जीत दर्ज की.
  3. 24 जनवरी (न्यूजीलैंड): न्यूजीलैंड को हराकर भारत क्वॉर्टर फाइनल में पहुंचा — बारिश से प्रभावित मैच में न्यूजीलैंड को डकवर्थ लुईस पद्वति से 44 रन से हराकर ग्रुप A में शीर्ष पर रहते हुए क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश किया.

सेमीफाइनल

ICC अंडर-19 विश्व कप 2020 का सेमीफाइनल भारत और पाकिस्तान के बीच 4 फरवरी को खेला गया था. इस मैच में भारतीय टीम ने पाकिस्तान को 10 विकेट से हराया था. पाकिस्तान से जीत के लिए मिले 173 रन के लक्ष्य को टीम इंडिया ने बगैर कोई विकेट गंवाए 35.2 ओवर में हासिल कर लिया था. इस प्रतियोगिता में भारत लगातार तीसरी बार फाइनल में पहुंची थी.

भारत ने न्‍यूजीलैंड से क्रिकेट सीरीज 5-0 से जीती, सभी मैच जीतने वाली विश्व की पहली टीम बनी

भारत ने न्‍यूजीलैंड से 5 मैचों की T20 क्रिकेट सीरीज 5-0 से जीत ली है. इस सीरीज का पांचवां और अंतिम मैच 2 फरवरी को माउंट मौंगानुई में खेला गया था. इस मैच में भारतीय टीम ने न्‍यूजीलैंड को 7 रनों से पराजित किया. इस मैच में भारतीय टीम ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवरों 3 विकेट पर 163 रन बनाए। जवाब में न्यूजीलैंड की टीम 9 विकेट पर 156 रन ही बना सकी।

सभी मैच जीतने वाली विश्व की पहली टीम

इस जीत के साथ ही भारतीय टीम 5 मैचों की किसी द्विपक्षीय T20 सीरीज के सभी मैच जीतने वाली पहली टीम बन गई है। न्यूजीलैंड ने इससे पहले अपनी मेजबानी में तीन या उससे अधिक मैचों की द्विपक्षीय T20 सीरीज के सभी मैच नहीं हारे थे। 2005 के बाद से अपनी मेजवानी में किसी द्विपक्षीय T20 सीरीज में सभी मैच हारने का वाकया केवल एक बार हुआ, जब फरवरी 2008 में उसे इंग्लैंड ने 2-0 से पराजित किया था।

भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच 5 मैचों की T20 क्रिकेट सीरीज न्‍यूजीलैंड में 24 जनवरी से 2 फरवरी तक खेला गया था. ऑकलैंड में खेले गये इस सीरीज के पहले मैच में भारत ने न्‍यूजीलैंड को 6 विकेट से पराजित किया था. सीरीज का दूसरा मैच भी ऑकलैंड में हुआ था. इस मैच में भारत ने न्‍यूजीलैंड को 7 विकेट से पराजित किया था. हैमिल्‍टन में खेले गये तीसरे और वेलिंग्‍टन में खेले गये चौथे मैच में भारत ने न्‍यूजीलैंड को सुपर ओवर में पराजित किया था.

भारत-ऑस्‍ट्रेलिया एक-दिवसीय सीरीज: भारत ने 2-1 से जीती, कोहली मैन ऑफ द सीरीज़ रहे

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच खेले गये 3 मैचों की एक-दिवसीय सीरीज भारत ने 2-1 से जीत ली है. बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में 19 जनवरी को खेल गये इस सीरीज के तीसरे और अंतिम मैच में भारत ने मेजवान ऑस्‍ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर यह सीरीज अपने नाम किया. इस मैच में 287 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने 47.3 ओवर में 3 विकेट खोकर 289 रन बनाए.

इस सीरीज का दूसरा मैच गुजरात के राजकोट में खेला गया था. इस मैच में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हराया था. मुंबई में खेले गये सीरीज के पहले मैच में ऑस्‍ट्रेलिया ने भारत को 10 विकेट से हराकर जीता था.

भारत ने श्रीलंका से T-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सीरीज़ 2-0 से जीती

भारत ने श्रीलंका से तीन मैचों की T-20 अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट सीरीज़ 2-0 से जीत ली है. इस सीरीज का तीसरा और अंतिम मैच 10 जनवरी को पुणे में खेला गया था. इस मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंका को 78 रन से पराजित कर दिया. श्रीलंका को इस मैच में जीत के लिए 202 रन की ज़रूरत थी, लेकिन टीम 15.5 ओवर में 123 रन पर सिमट गई.

इस सीरीज का दूसरा मैच इंदौर के होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया था. इस मैच में भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से पराजित किया था. गुवाहाटी में खेला गया सीरीज का पहला मैच भारी बारिश के कारण रद्द कर दिया गया था.

इरफान पठान ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की

भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान ने 4 जनवरी को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की. इरफान जब 19 साल के थे तब उन्होंने 2003 में औस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की तरफ से पहला मैच खेला था. उन्होंने अपना आखिरी मैच 2012 में श्रीलंका के खिलाफ खेला, जो टी-20 मैच था.

इरफान का प्रदर्शन: एक दृष्टि

  • इरफान पठान ने भारत के लिए 29 टेस्ट मैच खेलते हुए 31.57 की औसत से 1105 रन बनाए, जिसमें 1 शतक और 6 अर्धशतक शामिल हैं. उनके नाम 32.26 की औसत से 100 विकेट हैं.
  • वनडे में इरफान ने 120 मैच में खेले और 23.39 की औसत से 1544 रन बनाए. उनके नाम 5 अर्धशतक भी हैं, जबकि उन्होंने 173 विकेट झटके. वहीं, टी20 फॉर्मेट में इरफान ने भारतीय टीम के लिए 24 मैच में में 172 रन बनाए और 28 विकेट लिए.
  • इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में कई टीमों के लिए इरफान पठान ने 103 मैच में 1139 रन बनाए 33.11 के औसत से 80 विकेट अपने नाम किए थे.

भारत ने वेस्टइंडीज से एक-दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की श्रृंखला 2-1 से जीती

भारत ने वेस्टइंडीज से तीन एक-दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की श्रृंखला 2-1 से जीत ली है. 22 दिसम्बर को कटक में खेले गये इस श्रृंखला की तीसरे और अंतिम मैच में भारत ने वेस्टइंडीज को चार विकेट से हराकर यह श्रृंखला अपने नाम किया. वेस्टइंडीज़ से जीत के लिए मिले 316 रन के लक्ष्य को भारत ने 48.4 ओवर में 6 विकेट खोकर हासिल कर लिया.

भारत और वेस्टइंडीज के बीच इस श्रृंखला का दूसरा मैच विशाखापट्टनम में खेला गया था. इस मैच में भारत ने वेस्टइंडीज को 107 रन से पराजित किया था. चेन्नई में खेले गये इस सीरीज के पहले मैच में वेस्ट इंडीज ने भारत को 8 विकेट से हरा दिया था.

यह श्रृंखला कप्तान विराट कोहली की अगुआई में भारत की मेजवानी में 16 से 22 दिसम्बर तक खेला गया था. इस श्रृंखला के जीत के साथ ही वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत ने लगातार 10वीं द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखला जीती.