Posts



50वां IIFI गोआ में आयोजित किया गया, फिल्‍म ‘पार्टिकल्‍स’ को सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म का पुरस्‍कार

50वां भारतीय अन्‍तर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह (International Film Festival of India- IIFI) का आयोजन 20 से 28 नवंबर 2019 तक गोआ के पणजी में किया गया था. इस वर्ष आयोजन का विषय एक भारत श्रेष्‍ठ भारत था. इस समारोह में 76 देशों से दस हजार से अधिक फिल्‍म प्रतिनिधियों के लिए 300 फिल्‍मों का प्रदर्शन किया गया.

इस वर्ष भारतीय अन्‍तर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह (IIFI) की स्‍वर्ण जयंती वर्ष के रूप में आयोजित किया गया था. 1952 में अपनी स्‍थापना के बाद से 50वां वर्ष होने के नाते स्‍वर्ण जयंती मनाई गयी.

IIFI एशिया का सबसे बड़ा और भारत का सबसे प्रतिष्ठित महोत्सव है. यह एशिया में आयोजित होने वाला पहला अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव भी है.

50वें IIFI का भव्‍य समापन समारोह पणजी के डॉक्‍टर एसपी मुखर्जी इंडोर स्‍टेडियम में आयोजित किया गया था. समापन समारोह में IIFI को ICFT- यूनेस्‍को फेलिनी पदक प्रदान किया गया. महोत्सव का समापन ‘मारगे एण्‍ड हर मदर फिल्म’ के प्रदर्शन के साथ हुआ. विश्व के जाने-माने निर्देशक ईरान के मास्टर मोहसेन मख्मलबफ ने इस फिल्म का निर्देशन किया है. इस फिल्म में इटली के वास्तविक जीवन को दिखाया गया है.

समापन समारोह के मौके पर कई फिल्मों और उनसे जुड़े कलाकारों को सम्मानित किया गया:

  1. सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म (गोल्‍डन पीकॉक पुरस्‍कार): फ्रांसीसी फिल्‍म निर्माता ब्लेजी हेरिसन की फिल्‍म ‘पार्टिकल्‍स’ को सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म का पुरस्‍कार मिला। पुरस्‍कार में एक स्‍वर्ण मयूर के अलावा प्रशस्ति पत्र और 40 लाख रुपए नकद दिए जाते हैं.
  2. सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता: फिल्‍म ‘मारिघेला’ में प्रमुख भूमिका निभाने के लिए सीयू जॉर्ज को सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता का पुरस्‍कार दिया गया.
  3. सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेत्री: ऊषा जाधव को ‘माई घाट’ फिल्‍म के लिए सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेत्री का पुरस्‍कार दिया गया.
  4. सर्वश्रेष्‍ठ निर्देशक: लिजो जोस पेलिसरी को ‘जल्‍लीकट्टू’ फिल्‍म के लिए सर्वश्रेष्‍ठ निर्देशक का पुरस्‍कार दिया गया.
  5. विशेष ज्‍यूरी पुरस्‍कार: पेमा सेदेन निर्देशित फिल्‍म ‘बैलून’ को विशेष ज्‍यूरी पुरस्‍कार दिया गया जबकि नई प्रविष्टि के तौर पर मॉनस्‍टर और अबोउ लीला को पुरस्‍कृत किया गया.
  6. विशेष पुरस्‍कार: अभिषेक शाह की राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार प्राप्‍त फिल्‍म हेल्‍लारो विशेष पुरस्‍कार दिया गया.
  7. legends of India: कई राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित इलयाराजा को ‘legends of India’ श्रेणी में समनित किया गया.
  8. ITFT का यूनेस्‍को गांधी पुरस्‍कार: ITFT का यूनेस्‍को गांधी पुरस्‍कार रिकॉर्ड ऑफ सेलिब्रेटी द्वारा निर्देशित ‘रेवांडा’ को दिया गया.

अभिनेता रजनीकांत को गोल्‍डन जुबली पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IIFI) की स्वर्ण जयंती के प्रतीक के रूप में एक विशेष पुरस्कार ‘आइकॉन ऑफ द गोल्‍डन जुबली’ अवार्ड का गठन किया गया था. पिछले कई दशकों के दौरान भारतीय सिनेमा में उत्कृष्ट योगदान के लिए अभिनेता रजनीकांत को इस सम्मान से सम्‍मानित किया गया.

लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड

सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शकों को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड देकर सम्‍मानित करने की IIFI की परम्‍परा रही है. इस बार ये पुरस्‍कार अपने समय की सबसे मशहूर फ्रांसीसी अभिनेत्री इजाबल हुपे को सिनेमा में उत्‍कृष्‍ट योगदान के लिए दिया गया. IIFI का लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड इस माहेत्‍सव का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्‍कार है. इस पुरस्‍कार में दस लाख रुपये नकद दिए जाते हैं.

इटली की ‘डिस्‍पाइट द फॉग’ उद्घाटन फिल्‍म

इटली की फिल्‍म ‘डिस्‍पाइट द फॉग’ इस वर्ष अंतर्राष्‍ट्रीय भारतीय फिल्‍म समारोह (IIFI) की उद्घाटन फिल्‍म थी. इस फिल्‍म का निर्देशन यूरोप के प्रसिद्ध फिल्‍म निर्माता गोरान पस्‍कालजेविक ने किया है.

विशेष खंड में तीन फिल्‍में दिखाई गयी

यह वर्ष फिल्‍मोत्‍सव का स्‍वर्ण जयंती वर्ष था. इस वर्ष एक विशेष खंड में तीन फिल्‍में दिखाई गयीं. इनमें दो हिन्‍दी फिल्‍में- लगे रहो मुन्‍ना भाई और एम एस धोनी तथा एक कोंकणी भाषा की फिल्‍म क्‍वेस्‍तावो डी कन्‍फुसाओ था.

गोल्‍डन पीकॉक अवॉर्ड

50वें IIFI में गोल्‍डन पीकॉक पुनरावलोकन खण्‍ड में 8 देशों की आठ फिल्‍में दिखाई गयीं. गोल्‍डन पीकॉक अवार्ड की शुरुआत तीसरे भारतीय अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍मोत्‍सव में हुई थी. यह अंतरराष्‍ट्रीय स्‍पर्धा खण्‍ड में इस महोत्‍सव का सबसे अधिक प्रतिष्ठित पुरस्‍कार है. श्रीलंका की फिल्‍म गैम्‍पेरैलिया को 1965 में पहला गोल्‍डन पीकॉक अवॉर्ड दिया गया था.

रूस फोकस देश

रूस IFFI 2019 का फोकस देश है. फोकस देश उस देश को बनाया जाता हैं जो सिनेमा के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देता है. इस कार्यक्रम के दौरान रूस की आठ फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा.

25वां कोलकाता अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह का कोलकाता में आयोजन

25वां कोलकाता अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह 8 से15 नवम्बर तक कोलकाता में आयोजित किया जा रहा है. उद्घाटन समारोह में अमिताभ बच्‍चन, शाहरुख खान और पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी शामिल हुए. फिल्म समारोह की शुरूआत सत्‍यजीत रे की ‘गुपी ज्ञान बाघा बयेन’ फिल्म से हुई.

इस वर्ष समारोह में जर्मनी पर केंद्रित फिल्‍में दिखाई जायेगी. फिल्‍मोत्‍सव में 76 देशों की 214 फीचर फिल्‍में और 152 लघु तथा डॉक्‍यूमेंट्री फिल्‍में दिखाई जायेगी.

RKFC पर बनी एक डॉक्युमेंट्री को BAFTA 2019 पुरस्कार दिया गया

रियल कश्मीर फुटबॉल क्लब (RKFC) पर बनी एक डॉक्युमेंट्री को प्रतिष्ठित ‘ब्रिटिश अकैडमी ऑफ फील्ड ऐंड टेलीविजन अवॉर्ड्स’ (BAFTA) 2019 पुरस्कार दिया गया. स्कॉटलैंड के ग्लास्गो में आयोजित समारोह में यह पुरस्कार दिया गया. इस फिल्म को ‘एकल वृत्तचित्र’ वर्ग में पुरस्कार दिया गया.

RKFC में रियल कश्मीर एफसी टीम के कोच के रूप में रेंजर्स टीम के पूर्व स्टार डेविड रोबर्टसन की यात्रा को दर्शाया गया है. रोबर्टसन के मार्गदर्शन में रियल कश्मीर एफसी की टीम भारत की तत्कालीन शीर्ष दर्जे की फुटबॉल लीग आईलीग में अपने पहले ही सत्र में तीसरे स्थान पर रही थी.

फिल्म निर्माता और निर्देशक प्रियदर्शन को राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान से सम्मानित किया गया

2018-19 के लिए राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान 13 अक्टूबर को फिल्म निर्माता और निर्देशक प्रियदर्शन को दिया गया. किशोर कुमार की 32वीं पुण्यतिथि पर मध्यप्रदेश के खंडवा में आयोजित पुरस्कार समारोह में उन्हें इस सम्मान से सम्मानित किया गया.

किशोर कुमार सम्मान: एक दृष्टि

  • फिल्म कलाकार एवं पार्श्व गायक किशोर कुमार के नाम पर यह पुरस्कार मध्य प्रदेश सरकार के संस्कृति विभाग द्वारा दिया जाता है.
  • इस पुरस्कार के तहत दो लाख रुपये एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जाता है.
  • खंडवा किशोर कुमार का जन्म स्थान है और 13 अक्टूबर, 1987 को मुंबई में उनका देहांत हो गया था.

66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की गयी

66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा 9 अगस्त 2019 को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित पुरस्कार समरोह में की गयी. फिल्‍म निर्माता राहुल रवेल की अध्‍यक्षता वाली जूरी ने इन पुरस्कारों की घोषणा की’. इस समारोह में फीचर फिल्मों को 31 श्रेणियों में और गैर-फीचर को 23 श्रेणियों में पुरस्कार दिए गए.

सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म का पुरस्कार ‘अंधाधुन’ को दिया गया. इस फिल्म का निर्देशन आयुष्मान खुराना और तब्बू स्टारर श्रीराम राघवन ने किया है. इसके अलावा अभिषेक शाह के निर्देशन वाली गुजराती फिल्‍म ‘हेल्‍लारो’ को सर्वश्रेष्‍ठ फीचर फिल्‍म का पुरस्‍कार और ‘बधाई हो’ को सर्वश्रेष्‍ठ लोकप्रिय फिल्‍म का पुरस्‍कार दिया गया.

66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 2019: मुख्य पुरस्कारों पर एक दृष्टि

बेस्ट हिंदी फिल्मअंधाधुन
सर्वश्रेष्‍ठ फीचर फिल्‍मगुजराती फिल्‍म ‘हेल्‍लारो’
बेस्ट एक्टरविकी कौशल (उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक) और आयुष्मान खुराना (बधाई हो)
बेस्ट सपोर्टिंग एक्टरस्वानंद किरकिरे, चुंबक
बेस्ट एक्ट्रेसकीर्ति सुरेश (तेलुगु फिल्‍म महानती)
बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेससुरेखा सीकरी, बधाई हो
बेस्ट डायरेक्टरआदित्य धर, उरी द सर्जिकल स्ट्राइक
बेस्ट चाइल्ड आर्टिस्टपीवी रोहित, समित सिंह, ताला अर्चलरेशु श्रीनिवास पोकाले
बेस्ट चिल्ड्रन फिल्मसरकारी हीरिया प्राथमिक शाले कसरगोदू (कन्नड़)
बेस्ट लिरिक्समंजुथा, (नाथीचरमी)
बेस्ट मेकअप आर्टिस्टरंजीत
बेस्ट स्पोर्ट्स फिल्मस्वीमिंग थ्रू डार्कनेस
बेस्ट फिल्म ऑन फैमिली वैल्यूजचलो जीते हैं
बेस्ट शॉर्ट फिल्मकसाब
बेस्ट इंवेस्टिगेशन फिल्मअमोली
बेस्ट एजुकेशन फिल्मसर्लभ विरला
बेस्ट सोशल इश्यू फिल्मताला ते कुंजी
बेस्ट एनवायरमेंटल फिल्मद वर्ल्ड मोस्ट फेमस टाइगर
स्पेशल मेंशन अवॉर्डमहान हुतात्मा डायरेक्टर सागर पुराणिक
बेस्ट म्यूजिकज्योति, केदार दिवेकर
बेस्ट एडिटिंगसनराइज, हेमंती सरकार
बेस्ट ऑडियोग्राफीचिल्ड्रन ऑफ सॉइल, बिश्वदीप चैटर्जी
सर्वश्रेष्ठ फिल्म समीक्षकब्लेस जॉनी और अनंत विजय
बेस्ट राजस्थानी फिल्मटर्टल
बेस्ट पंचांग फिल्मइन द लैंड ऑफ पॉइजनस वीमन
बेस्ट गारो फिल्मअन्ना
बेस्ट मराठी फिल्मभोंगा
बेस्ट तमिल फिल्मबरम
बेस्ट उर्दू फिल्महामिद
बेस्ट बंगाली फिल्मउक जे छिलो राजा
बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टरसंजय लीला भंसाली (पद्मावत)
बेस्ट बैकग्राउंड अवॉर्डउरी द सर्जिकल स्ट्राइक
मोस्ट फिल्म फ्रैंडली स्टेटउत्तराखंड
बेस्ट एक्शन फिल्मकेजीएफ