पोस्ट



क्लेयर कोनोर MCC की पहली महिला अध्यक्ष बनेंगी

इंग्लैंड की पूर्व कप्तान क्लेयर कोनोर (Clare Connor) मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) के 233 साल के इतिहास में पहली महिला अध्यक्ष बनने जा रही हैं. वह श्रीलंका के कुमार संगकारा की जगह लेंगी. कोनोर अगले साल 1 अक्टूबर 2021 को पद संभालेगी. कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण संगकारा का कार्यकाल एक साल के लिये और बढा दिया गया था.

क्लेयर कोनोर इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) में महिला क्रिकेट की प्रबंध निदेशक हैं. उन्होंने 1995 में 19 साल की उम्र में इंग्लैंड के लिए अपना पहला मैच खेला था और कई वर्षों तक अपने देश की कप्तानी की थी.

उनके नामांकन का की घोषणा MCC के मौजूदा अध्यक्ष कुमार संगकारा ने 24 जून को आमसभा की सालाना बैठक में की थी. यह बैठक वीडियो कांफ्रेंस के जरिए हुई थी. कोनोर को नियुक्ति से पहले क्लब के सदस्यों की मंजूरी जरूरी है.

पाकिस्तान महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान सना मीर ने संन्यास की घोषणा की

पाकिस्तान महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान सना मीर ने 25 अप्रैल को अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की. सना को पाकिस्तान ही नहीं बल्कि दुनिया की महिला क्रिकेट में बेहतरीन ऑफ स्पिनर्स में से एक माना जाता है. सना मीर ने कुल 226 मैचों में अपने देश का प्रतिनिधित्व किया. 137 में वो कप्तान रहीं. 2005 में उन्होंने डेब्यू किया था.

सना ने दिसंबर 2005 में श्रीलंका के खिलाफ कराची में अपना पहला वनडे खेला था. उन्होंने 120 वनडे में 151 विकेट लिए. इस दौरान उनका एवरेज 24.27 रहा. उन्होंने 89 T-20 भी खेले. इनमें 106 विकेट लिए. उन्होंने अपना आखिरी वनडे मैच नवंबर 2019 में लाहौर में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था.

ICC ने दो भारतीय महिलाओं जननी नारायणन और वृंदा राठी को अंपायर का दर्जा दिया

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने दो भारतीय महिलाओं- जननी नारायणन और वृंदा राठी को अपने ‘इंटरनेशनल पैनल ऑफ ICC डेवलेपमेंट अंपायर्स’ में शामिल किया है. इससे अब ICC के महिला अंपायरों की संख्या बढ़कर 12 हो गई है.

ICC के इस निर्णय के बाद ये भारतीय महिलाएं अब अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच में अंपायरिंग कर सकती हैं. जननी नारायणन और वृंदा राठी से पहले जीएस लक्ष्मी ने ICC के ‘इंटरनेशनल पैनल ऑफ ICC डेवलेपमेंट अंपायर्स’ में जगह बनाई थी. ICC ने अंपायर्स डेवलेपमेंट पैनल में इन भारतीय महिलाओं का चुनाव इनके प्रदर्शन के आधार पर किया है.

34 साल की जननी नारायणन 2018 से ही घरेलू टूर्नामेंटों में अंपायरिंग करती आ रही हैं. वहीं, 31 साल की राठी ने करियर की शुरुआत स्कोरर के रूप में किया था और बाद में अंपायर बन गई. राठी भी 2018 के बाद से ही घरेलू टूनार्मेंटों में अंपायरिंग कर रही है.

ICC में शामिल महिला अंपायर्स

जीएस लक्ष्मी, शंद्रे फ्रिट्ज (मैच रेफरी); लॉरेन एगेनबैग, किम कॉटॉन, शिवानी मिश्रा, क्लायर पोलोस्क, सु रेडफर्न, इलोसी शेरिडन, मैरी वॉलड्रोन, जैकलीन विलियम्स, वृंदा राठी और जननी नारायणन (अंपायर्स).

ICC की महिला T-20 टीम के लिए पूनम यादव का चयन किया गया

ICC ने महिला T-20 विश्वकप टीम की घोषणा कर दी है. कुल 12 खिलाड़ियों वाली टीम में भारत की तरफ से पूनम यादव का चयन किया गया है. वह इकलौती भारतीय क्रिकेटर हैं जिसका चयन इस टीम के ‘प्लेइंग XI’ लिए किया गया है. वहीं 16 वर्षीय शेफाली वर्मा को 12वें खिलाड़ी के रूप में टीम में शामिल किया गया है.

ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तान मेग लैनिंग को ICC की इस टीम का कप्तान बनाया है. वहीं ऑस्ट्रेलियाई टीम की एलिसी हिली और बेथ मूनी को इस टीम की ओपनर बनाया गया है. ICC की इस टीम में ऑस्ट्रेलिया के पांच, इंग्लैंड के चार, भारत के दो और दक्षिण अफ्रीका की एक खिलाड़ी को जगह मिली है.

7वां ICC महिला क्रिकेट T-20 विश्व कप: ऑस्ट्रेलिया से हारकर भारत उप-विजेता बना

ICC महिला T-20 विश्व कप (ICC Women’s T20 World Cup 2020) 21 फरवरी से 8 मार्च तक ऑस्ट्रेलिया में खेला गया. यह महिला T20 विश्वकप टूर्नामेंट का 7वां संस्करण था. पहली बार फाइनल में पहुंची भारतीय टीम इस विश्व कप में उप-विजेता रहा.

इस महिला क्रिकेट T-20 विश्व कप का फाइनल मैच 8 मार्च को ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में खेला गया. इस मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रन से हरा कर टूर्नामैंट का विजेता बना. ऑस्ट्रेलिया ने भारत को यहां 185 रन का लक्ष्य दिया था, जिसमें भारतीय टीम 19.1 ओवर में अपने सभी विकेट गंवाकर 99 रन ही बना पाई.

यह 5वां मौका था जब ऑस्ट्रेलिया ने इस टूर्नामैंट का खिताब अपने नाम किया. ऑस्ट्रेलिया के हीली को इस मैच में ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ और बेथ मूनी को पूरे टूर्नमेंट में शानदार खेल के लिए ‘प्लेयर ऑफ टूर्नमेंट’ चुना गया.

भाग लेने वाली टीमें और ग्रुप

7वें महिला T20 विश्वकप में कुल 10 टीमों ने हिस्सा लिया था. इन सभी टीमों को दो ग्रुप में रखा गया था. भारतीय टीम ग्रुप A में थी.
ग्रुप-A: भारत, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, श्रीलंका और बांग्लादेश
ग्रुप-B: इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, वेस्टइंडीज, पाकिस्तान और थाईलैंड

भारतीय टीम

हरमनप्रीत कौर (कप्तान), शेफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, जेमिमा रॉड्रिग्ज, दीप्ति शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, शिखा पांडे, तानिया भाटिया (विकेट-कीपर), अरुंधति रेड्डी, पूनम यादव, राजेश्वरी गायकवाड़.

भारतीय टीम के मैच

भारतीय टीम कुल 4 लीग स्टेज मुकाबले खेली.

ग्रुप स्टेज के मैच
  1. भारत वनाम ऑस्ट्रेलिया (21 फरवरी): इस प्रतियोगिता का पहला मैच सिडनी के शोग्राउंड स्टेडियम में भारत और गत चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया. इस मैच में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हरा दिया. भारत ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 132 रन बनाए थे. जवाब में ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 19.5 ओवर में 115 रन बनाकर ऑलआउट हो गई.
  2. भारत वनाम बंगलादेश (24 फरवरी): भारत ने पर्थ में बंगलादेश को 18 रन से हरा दिया. भारत ने बंगलादेश को जीत के लिए 143 रन का लक्ष्‍य दिया था. बंगलादेश की टीम निर्धारित 20 ओवर में आठ विकेट पर 124 रन ही बना सकी.
  3. भारत वनाम न्‍यूजीलैंड (27 फरवरी): इस विश्‍वकप के तीसरे ग्रुप मैच में भारत ने न्‍यूजीलैंड को चार रन से हराकर लगातार तीसरी जीत हासिल की. इस मैच में भारत ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट पर 133 रन बनाए थे. जवाब में न्‍यूजीलैंड की टीम 6 विकेट पर 129 रन ही बना सकी. इस जीत से भारत ने सेमीफाइनल में जगह पक्‍की कर ली थी.
  4. भारत वनाम न्‍यूजीलैंड (29 फरवरी): मेलबर्न में खेल गये अंतिम लीग मैच में भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से हरा दिया. श्रीलंका ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए भारत को जीत के लिए 114 रन का लक्ष्‍य दिया था. जिसे भारत ने 14वें ओवर में 3 विकेट खोकर जीत हासिल की.
सेमीफाइनल मैच

भारत वनाम इंग्‍लैंड: भारत इस विश्वकप के फाइनल में पहुंच गया. सिडनी में 5 मार्च को भारत और इंग्‍लैंड के बीच सेमीफाइनल मैच बारिश के कारण रद्द हो गया. इसके बाद भारतीय टीम अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहने के कारण फाइनल में पहुंच गई. भारत पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा था. फाइनल मुकाबला 8 मार्च को मेलबर्न में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया.

अब तक 7 बार T-20 महिला विश्वकप क्रिकेट

अब तक 7 बार टी-20 महिला विश्वकप क्रिकेट खेले जा चुके हैं. भारत पहली बार फाइनल में थी, जबकि ऑस्ट्रेलिया ने यह खिताब 5वीं बार जीता है. पिछली बार उसने फाइनल में इंग्लैंड को 8 विकेट से हराया था. भारत 3 बार (2009, 2010, 2018) में सेमीफाइनल में पहुंचा है. पिछली बार उसे सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों हार मिली थी.

ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम ने इस टूर्नमें का खिताब पहली बार 2010 में जीता था. इसके बाद उसने 2012, 2014, 2018 और फिर 2020 में खिताब खिताब जीतने में सफल रहा है.

ऑस्ट्रेलिया को लगातार दूसरी बार ‘ICC महिला चैंपियनशिप ट्रॉफी’ प्रदान की गई

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने ऑस्ट्रेलिया को हाल ही में ‘ICC महिला चैंपियनशिप ट्रॉफी’ प्रदान की है. आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान मेग लानिंग को यह ट्रॉफी ICC महिला क्रिकेट मैनेजर होली कोल्विन ने प्रदान की. ऑस्ट्रेलिया को लगातार दूसरी बार यह ट्रॉफी प्रदान की गयी है. मेग लानिंग की टीम ने पिछली बार भी यह ट्रॉफी जीती थी.

आस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम ने 2017 से 2020 के बीच आठ टीमों की वनडे चैंपियनशिप में विजयी बढत ली थी. जिस कारण यह चैंपियनशिप ट्रॉफी प्रदान की गयी. इससे पूर्व पहले संस्करण 2014–16 के लिए यह ट्रॉफी प्रदान की गई थी.

भारत ने वेस्टइंडीज से T20 महिला क्रिकेट सीरीज 5-0 से जीती

भारत ने वेस्टइंडीज से 5 मैचों की T20 महिला क्रिकेट सीरीज 5-0 से जीत ली है. प्रोविंस स्टेडियम में 21 नवम्बर को खेले गये इस सीरीज के पांचवें और अंतिम मैच में भारतीय टीम ने मेजबान वेस्टइंडीज को 61 रन से पराजित कर सभी मैच जीत लिए. भारतीय महिलाओं टीम ने वनडे सीरीज में भी ने 2-1 से जीत हासिल की थी.

इस सीरीज का पहला मैच भारत ने 84 रन से जीता था जबकि दूसरे मैच में 10 विकेट से पराजित किया था. तीसरा मैच भारत ने 7 विकेट से अपने नाम किया था और चौथा मुकाबले में भारतीय टीम ने 5 रन से जीत दर्ज की थी.

भारत ने वेस्‍टइंडीज से तीन मैचों की एक दिवसीय महिला क्रिकेट श्रृंखला 2-1 से जीती

भारत ने वेस्‍टइंडीज से तीन मैचों की एक दिवसीय महिला क्रिकेट श्रृंखला 2-1 से जीत ली है. एंटिगा के नॉर्थ साउंड में खेले गये इस श्रृंखला के तीसरे और अंतिम मैच में भारतीय टीम ने वेस्‍टइंडीज को छह विकेट से पराजित कर दिया. इस क्रिकेट श्रृंखला के दुसरे मैच में वेस्टइंडीज ने भारत को 53 रन पराजित कर दिया था.